Social Items

New Born Baby Aadhar Card Procedure in Hindi Tech Know -नवजात बच्चों का आधार कार्ड बनाना आनिवार्य हो गया हे |


5 वर्ष से मोटी उम्र को वायोमेट्रिक करवाना जरूरी हे |


दोस्तों 0-5 वर्ष के बच्चों को आधारकार्ड बनाना जरूरी हे जो आपको ब्लू रंग के आधारकार्ड दिया जाता हे | 
जन्म प्रमाणपत्र ओर माता ओर पिता का आधारकार्ड की कॉपी से बच्चे का जन्म का प्रमाणपत्र बनाया जाता हे|

नवजात बच्चों का आधार कार्ड बनाना आनिवार्य हो गया हे |

New Born Baby Aadhar Card Procedure in Hindi
New Born Baby Aadhar Card


5 वर्ष से जादा उम्र के बच्चों का जन्म का प्रमाणपत्र ओर स्कूल का आईडी कार्ड से बना सकते हे|

दोस्तों बच्चों से लेकर हर उम्र के लोगों का जरूरी दस्तावेज आधारकार्ड हे | दोस्तों की स्कूल अडमिसन के टाइम बच्चों का आधारकार्ड जरूर मांगते हे | कितने लोगों शायद ये नहीं खबर की नवजात बच्चों का आधारकार्ड भी बनाया जाता हे | इसलिए आपको यह मालूम होना चाहिए की नवजात बच्चों का आधार कार्ड जरूरी होता हे | इसलिए आपको यह खबर होना चाहिए तो नवजात बच्चों का 
आधार कार्ड किस तरह बनवाया जाता हे |


New Born Baby Aadhar Card

5 वर्ष से छोटी उम्र के बच्चों के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट 

5 वर्ष के छोटे बच्चों के लिए आपको आधारकार्ड सेंटर मे जाकर बच्चों के नाम को फॉर्म भरकर उस फॉर्म के साथ आपको उसका जन्म का प्रमाणपत्र ओर साथ मे माता ओर पिता के आधारकार्ड की कॉपी देनी होती हे , उसके साथ आप आधारकार्ड की ओरिजनल आधारकार्ड रखना जरूरी हे |
5 वर्ष के बच्चों को वायोमेट्रिक करवाना जरूरी नहीं होता उनका वायोमेट्रिक जब वो 5 साल से जादा उम्र के हो जाएंगे तब आपको उनका वायोमेट्रिक करवाना पड़ता हे | उससे पहले आप को जरूरत नहीं पड़ती | यानि उससे पहले आपको सिर्फ बच्चों के फोटो की जरूरत पड़ती हे उनका आँखों ओर हाथों की फिंगरप्रिंट की जरूरत नहीं पड़ती |
0-5 साल की बच्चों का ब्लू आधारकार्ड दिया जाता हे |

New Born Baby Aadhar Card Procedure in Hindi

5 वर्ष की मोटी उम्र के बच्चों  के लिए 

5 वर्ष के जादा बच्चों के लिए आधारकार्ड बनाने के लिए उनका जन्म का पर्माणपत्र की कॉपी ओर या फिर उसके स्कूल की आईडी देनी होती हे यदि स्कूल मे न हो तो उनके माता पिता की आधारकार्ड की कॉपी गजटेड आधिकारी या मामलतदार के पास से वेरीफिकेशन करवाना पड़ता हे |
अड्रेस प्रूफ मे भी गजटेड आधिकारी या मामलतदार या फिर संसद ग्राम पंचायत द्वारा फोटो के साथ उसका पर्माणपत्र मान्य हे |
15 वर्ष से जादा उम्र हो तब एक बार फिर वायोमेट्रिक करवाना जरूरी होता हे |

New Born Baby Aadhar Card Procedure in Hindi Tech Know -नवजात बच्चों का आधार कार्ड बनाना आनिवार्य हो गया हे |

New Born Baby Aadhar Card Procedure in Hindi Tech Know -नवजात बच्चों का आधार कार्ड बनाना आनिवार्य हो गया हे |


5 वर्ष से मोटी उम्र को वायोमेट्रिक करवाना जरूरी हे |


दोस्तों 0-5 वर्ष के बच्चों को आधारकार्ड बनाना जरूरी हे जो आपको ब्लू रंग के आधारकार्ड दिया जाता हे | 
जन्म प्रमाणपत्र ओर माता ओर पिता का आधारकार्ड की कॉपी से बच्चे का जन्म का प्रमाणपत्र बनाया जाता हे|

नवजात बच्चों का आधार कार्ड बनाना आनिवार्य हो गया हे |

New Born Baby Aadhar Card Procedure in Hindi
New Born Baby Aadhar Card


5 वर्ष से जादा उम्र के बच्चों का जन्म का प्रमाणपत्र ओर स्कूल का आईडी कार्ड से बना सकते हे|

दोस्तों बच्चों से लेकर हर उम्र के लोगों का जरूरी दस्तावेज आधारकार्ड हे | दोस्तों की स्कूल अडमिसन के टाइम बच्चों का आधारकार्ड जरूर मांगते हे | कितने लोगों शायद ये नहीं खबर की नवजात बच्चों का आधारकार्ड भी बनाया जाता हे | इसलिए आपको यह मालूम होना चाहिए की नवजात बच्चों का आधार कार्ड जरूरी होता हे | इसलिए आपको यह खबर होना चाहिए तो नवजात बच्चों का 
आधार कार्ड किस तरह बनवाया जाता हे |


New Born Baby Aadhar Card

5 वर्ष से छोटी उम्र के बच्चों के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट 

5 वर्ष के छोटे बच्चों के लिए आपको आधारकार्ड सेंटर मे जाकर बच्चों के नाम को फॉर्म भरकर उस फॉर्म के साथ आपको उसका जन्म का प्रमाणपत्र ओर साथ मे माता ओर पिता के आधारकार्ड की कॉपी देनी होती हे , उसके साथ आप आधारकार्ड की ओरिजनल आधारकार्ड रखना जरूरी हे |
5 वर्ष के बच्चों को वायोमेट्रिक करवाना जरूरी नहीं होता उनका वायोमेट्रिक जब वो 5 साल से जादा उम्र के हो जाएंगे तब आपको उनका वायोमेट्रिक करवाना पड़ता हे | उससे पहले आप को जरूरत नहीं पड़ती | यानि उससे पहले आपको सिर्फ बच्चों के फोटो की जरूरत पड़ती हे उनका आँखों ओर हाथों की फिंगरप्रिंट की जरूरत नहीं पड़ती |
0-5 साल की बच्चों का ब्लू आधारकार्ड दिया जाता हे |

New Born Baby Aadhar Card Procedure in Hindi

5 वर्ष की मोटी उम्र के बच्चों  के लिए 

5 वर्ष के जादा बच्चों के लिए आधारकार्ड बनाने के लिए उनका जन्म का पर्माणपत्र की कॉपी ओर या फिर उसके स्कूल की आईडी देनी होती हे यदि स्कूल मे न हो तो उनके माता पिता की आधारकार्ड की कॉपी गजटेड आधिकारी या मामलतदार के पास से वेरीफिकेशन करवाना पड़ता हे |
अड्रेस प्रूफ मे भी गजटेड आधिकारी या मामलतदार या फिर संसद ग्राम पंचायत द्वारा फोटो के साथ उसका पर्माणपत्र मान्य हे |
15 वर्ष से जादा उम्र हो तब एक बार फिर वायोमेट्रिक करवाना जरूरी होता हे |

कोई टिप्पणी नहीं